Thought of The Day :

image

I know where I’m going and I know the truth, and I don’t have to be what you want me to be. I’m free to be what I want.
#MuhammadAli

Advertisements

Amazing Facts :

image
James Harrison

#AmazingFact : After needing 13 litres of blood for a surgery at the age of 13, a man named James Harrison pledged to donate once he turned 18. It was later discovered that his blood contained a rare antigen which cured Rhesus disease. He has donated blood a record 1,000 times and saved 2,000,000 lives.

Posted in हिन्दी साहित्य, Hindi, Spiritual, Story

Busy but Be Easy Too

एक गिलहरी रोज अपने काम पर समय से आती थी और अपना काम पूरी मेहनत और ईमानदारी से करती थी !

गिलहरी जरुरत से ज्यादा काम कर के भी खूब खुश थी क्योंकि उसके मालिक, जंगल के राजा शेर ने उसे दस बोरी अखरोट देने का वादा कर रखा था।

गिलहरी काम करते करते थक जाती थी तो सोचती थी कि थोडी आराम कर लूँ
वैसे ही उसे याद आता,
कि शेर उसे दस बोरी अखरोट देगा –
गिलहरी फिर काम पर लग जाती !

गिलहरी जब दूसरे गिलहरीयों को खेलते देखती थी तो उसकी भी इच्छा होती थी कि मैं भी खेलूं पर उसे अखरोट याद आ जाता,
और वो फिर काम पर लग जाती !

ऐसा नहीं कि शेर उसे अखरोट नहीं देना चाहता था, शेर बहुत ईमानदार था !

ऐसे ही समय बीतता रहा….

एक दिन ऐसा भी आया जब जंगल के राजा शेर ने गिलहरी को दस बोरी अखरोट दे कर आज़ाद कर दिया !

गिलहरी अखरोट के पास बैठ कर सोचने लगी कि अब अखरोट मेरे किस काम के ?
पूरी जिन्दगी काम करते – करते दाँत तो घिस गये, इन्हें खाऊँगी कैसे !

यह कहानी आज जीवन की हकीकत बन चुकी है !

इन्सान अपनी इच्छाओं का त्याग करता है, पूरी ज़िन्दगी नौकरी, व्योपार, और धन कमाने में बिता देता है !
६० वर्ष की ऊम्र में जब वो सेवा निवृत्त होता है, तो उसे उसका जो फन्ड मिलता है, या बैंक बैलेंस होता है, तो उसे भोगने की क्षमता खो चुका होता है, तब तक जनरेशन बदल चुकी होती है, परिवार को चलाने वाले बच्चे आ जाते है।

क्या इन बच्चों को इस बात का अन्दाजा लग पायेगा की इस फन्ड, इस बैंक बैलेंस के लिये : –

कितनी इच्छायें मरी होंगी ?
कितनी तकलीफें मिली होंगी ?
कितनें सपनें अधूरे रहे होंगे ?

क्या फायदा ऐसे फन्ड का, बैंक बैलेंस का, जिसे पाने के लिये पूरी ज़िन्दगी लग जाये और मानव उसका भोग खुद न कर सके !

इस धरती पर कोई ऐसा अमीर अभी तक पैदा नहीं हुआ जो बीते हुए समय को खरीद सके।

इसलिए हर पल को खुश होकर जियो व्यस्त रहो, पर साथ में मस्त रहो सदा स्वस्थ रहो।

BUSY पर BE-EASY भी रहो ।

Posted in हिन्दी साहित्य, CBSE, Class 10, Education System, Hindi, Psychology, RBSE Ajmer, RPSC, Spiritual

एक शिक्षक की कलम से

प्रिय 
      माता-पिता,

परीक्षाऔ का दौर लगभग समाप्ति की ओर  है।

अब आप अपने बच्चों के
रिजल्ट को लेकर
चिंतित हो रहे होंगे ।

लेकिन कृपया याद रखें, 
वे सभी छात्र
जो परीक्षा में शामिल हो रहे हैं, 
इनके ही बीच में

कई कलाकार भी हैं, 
जिन्हें गणित में पारंगत होना 
जरूरी नहीं है।

इनमें अनेकों उद्यमी भी हैं,
जिन्हें इतिहास या 
अंग्रेजी साहित्य में 
कुछ कठिनाई 
महसूस होती होगी, 
लेकिन ये ही आगे चलकर 
इतिहास बदल देंगे I

इनमें संगीतकार भी हैं
जिनके लिये
रसायनशास्त्र के अंक 
कोई मायने नहीं रखते ।

इनमें खिलाड़ी भी हैं,
जिनकी फिजिकल फिटनेस
फिजिक्स के अंकों से ज्यादा
महत्वपूर्ण हैं ।

यदि आपका बच्चा 
मैरिट अंक प्राप्त करता है
तो ये बहुत अच्छी बात है।

लेकिन यदि वह 
ऐसा नहीं कर पाता तो 
उससे कृपया
उसका आत्मविश्वास न छीनें |

उसें बतायें कि 
सब कुछ ठीक है 
और ये सिर्फ परीक्षा ही है ।

वह जीवन में 
इससे कहीं ज्यादा 
बड़ी चीजों को 
करने के लिये बना है |

इस बात से 
कोई फर्क नहीं पड़ता कि 
उसने कितना स्कोर किया है।

उसे प्यार दें 
और उसके बारे में 
अपना फैसला न सुनायें ।

यदि आप उसे 
खुशमिज़ाज़ बनाते हैं 
तो वो कुछ भी बने 
उसका जीवन सफल है,

यदि वह
खुशमिज़ाज़ नहीं है
तो वो कुछ भी बन जाए, 
सफल कतई नहीं है ।

कृपया ऐसा करके देखें, 
आप देखेंगे कि आपका बच्चा
दुनिया जीतने में सक्षम है।

एक परीक्षा या
एक 90% की मार्कशीट
आपके बच्चे के 
सपनों का पैमाना नहीं है ।

✍ एक अध्यापक

इसको ज्यादा से ज्यादा 
शेयर करे
ताकि कोई बच्चा आत्महत्या
जैसी सोच से भी दूर रहे ।

Posted in Do You Know, Freedom Struggle, General Knowledge, Indian Constitution, Indian History, Social Science, Spiritual

भारत के प्रमुख व्यक्ति एवं उनके कार्य

1.” ओउम जय जगदीश हरे “आरती के लेखक- श्रद्धाराम फिल्लौरी

2.वन महोत्सव के जनक – के.एम. मुंशी

3.सिनेमा के जनक – दादा साहब फाल्के

4.पंचायती राज के जनक – बलवन्त राय मेहता

5. परमाणु कार्यक्रम के जनक- होमी जहांगीर भाभा

6.भारतीय अर्थशास्त्र के जनक- एम.विश्वेश्वररैया

7.माऊट एवरेस्ट की खोज – जार्ज एवरेस्ट

8.हरित क्रांति के जनक- एम.एस.स्वामीनाथन

9.श्वेत क्रांति के जनक- वर्गीस कुरियन

10.नागरिक उड्डयन के जनक -जे.आर.डी.टाटा

11.जयपुर फुट के निर्माता – प्रमोद करण सेठी

12.आधुनिक पुलिस एक्ट के निर्माता -बर्टल फ्रेरे

13.सिविल सेवा के जनक – कार्नवालिस

14.भूदान आन्दोलन के जनक -विनोबा भावे

15.चिपको आन्दोलन के जनक -सुन्दरलाल बहुगुणा- चंडी प्रसाद भट्ट

16.नक्सलवाद के जनक -चारू मजूमदार

17.जनहित याचिका के जनक – पी.एन.भगवती

18.लोक अदालत के जनक – पी.एन.भगवती

19.लाइफ लाईन एक्सप्रेसके जनक – जान विल्शन

20.ब्लेक होल के खोज – जयंत नार्लीकर

21.मिसाइल कार्यक्रम के जनक – ए.पी.जे.अब्दुल कलाम

22.नर्मदा बचाओं आन्दोलन- मेघा पाटकर

23.पौधो में जीवन की खोज- जगदीश चन्दु बसु

24.हिन्दू विधि निर्माता – मनु

25.आधुनिक तिरंगा के निर्माता – पिगली वेंकैया

26.खुले जेल के संस्थापक – सम्पूर्णानंद

27.भारत जोडो आंदोलन – बाबा आम्टे

28.बंधुआ मजदूर उन्मूलन आंदोलन – स्वामी अग्निवेश

29.बालविवाह निषेध कानून का निर्माण -हरविलास शारदा

30.विधवा पुर्नविवाह आन्दोलन- ईश्वर चन्द्र विद्यासागर

31.जल संरक्षण आन्दोलन- राजेन्द्र सिंह

32.प्रोजेक्ट टाईगर- कैलाश सांख्ला

33.देशी रियासतों का एकीकरण- बल्लभभाई पटेल

34.ह्दय परिवर्तन- जयप्रकाश नारायण

35.उर्दू कविता के जनक- अमीर खुसरों

36.सितार के जनक- अमीर खुसरों

37.शून्यवाद- नागार्जुन

38.वेदों का पुनरुत्थान – दयानंद सरस्वती

39.वर्धा शिक्षा प्रणाली- डा. जाकिर हुसैन

40. स्त्री शिक्षा- केशव कर्वे

41.गुरूग्रंथ साहिब संकलन- गुरू अर्जुन देव

42.कांग्रेस समाजवादी दल -जयप्रकाश नारायण

43.निर्गुन ब्रह्म के संस्थापक- कबीर

44.रस चिकित्सा- नागार्जुन

45.सिख राज्य के संस्थापक- रणजीत सिंह

46.कम्प्यूटर क्रांति- सैम पित्रोदा

47.सनातन धर्म के संस्थापक- शंकराचार्य

48.आधुनिक बंगाल के निर्माता- सुरेन्द्र नाथ बनर्जी

49.मालगुजारी व्यवस्था- टोडरमल

50.द्विराष्ट्र सिद्धांत- सैय्यद अहमद खां

51.खालिस्तान आन्दोलन- डा. जगजीत सिंह चैहान

52.भारत छोड़ो आंदोलन – गांधी जी

53.अशोक के शिलालेखो को सर्वप्रथम पढ़ने वाला- जेम्सप्रिन्सेप

54.अशोक के शिलालेखों की खोज- पान्द्रेटीपेन्टोलर

55.अशोक को बौद्ध धर्म में दीक्षित किया- उपगुप्त

56.गुप्त वंश की स्थापना- श्रीगुप्त

57.एरण की खोज- के .डी. बाजपेई

58.भीमबैठका की खोज -श्रीधर वाकणकर

59.सांची स्तपों का निर्माण -अशोक

60.सांची स्तूपों की खोज-जनरल टेलर

61.खजुराहों मंदिरों का निर्माण -नरसिंह वर्मन (चंदेलराजा)

62.खजुराहों मंदिरों की खोज -अल्फ्रेड लायल

63.कुषाण वंश का संस्थापक -कुजुल कदफिस

64.आयुर्वेद के जनक – धन्वंतरि

65.शल्य चिकित्सा- सुश्रुप्त

66.सूर्य सिद्धांत- आर्यभट्ट

67.राजपूतों की उत्पत्ति का अग्निकुंड सिद्धांत – चंदबरदाई

68.सिन्धु सभ्यता की खोज- दयाराम साहनी एवं राखलदास बनर्जी

69.पुरातत्व विभाग का संस्थापक – अलेक्जेन्डर कर्निघम

70.वेदों का अध्ययन – मैक्समूलर (जर्मनी)

71.पाटलीपुत्र का सस्थापक – उदयन

72.विक्रम संवत् – राजा विक्रमादित्य

73.शक संवत्- कनिष्क

74.मौर्य वंश का संस्थापक – चन्द्रगुप्त मौर्य

75.भक्ति आन्दोलन – रामानुज

76.हिन्दू धर्म का पुनरूत्थान – शंकराचार्य

77.मुगल वंश का संस्थापक – बाबर

78.ग्रांड ट्रंक रोड का निर्माता – शेरशाह सूरी

79.रूपये का प्रचलन – शेरशाह सूरी

80.कुतुबमीनार का निर्माण – कुतुबुद्दीन ऐवक एवं इल्तुतमिश

81.बाजार नीति – अलाउद्दीन खिल्जी

82.लौह एवं रक्त नीति सजदा प्रथा, एवं नौरोज त्यौहार -बलवन

83.सोमनाथ मंदिर का विघ्वंश – मोहम्मद गजनवी

84.सोमनाथ मंदिर का पुनर्निर्माण – सरदार पटैल

85.बाबरी मस्जिद का निर्माण – मीरबाकी

86.ताजमहल का वास्तुकार – उस्ताद ईसा

87.दीन-ए-इलाही धर्म, सुलह कुल की नीति,इबादत खाने की स्थापना, फतेहपुर सीकरी का निर्माण, मजहर की घोषणा-अकबर

88.राजधानी परिवर्तन, सांकेतिक मुद्रा का प्रचलन -मोहम्मद तुगलक

89.आगरा का संस्थापक – सिकन्दर लोदी

90.जयपुर का संस्थापक – सवाई राजा जयसिंह

91.जंतर-मंतर के संस्थापक – सवाई राजा जयसिंह

92.चारों मठों के संस्थापक- शंकराचार्य

93.माउंट आबू मंदिरों के निर्माता – विमलशाह

94.दिल्ली के वास्तुकार – एडविन लुटयंस

95.राष्ट्रपति भवन के वास्तुकार – एडविन लुटयंस

96.संसद के वास्तुकार – एडविन लुटयंस एवं हावर्ड वेकर

97.कोलकाता का संस्थापक – जाब चारनाक

98.मुम्बई का संस्थापक – आनोल्ड आग्जियर

99.भुवनेश्वर का वास्तुकार – कोनिस बर्गर

100 .चंडीगढ का वास्तुकार – ली कार्बुरियर

101.भारत भवन भोपाल का वास्तुकार- चार्ल्स कोरिया

102.इंदौर की स्थापना – रानी अहिल्या बाई

103.गुलाब के इत्र का अविष्कार – नूरजहा

104.सांख्य दर्शन – कपिल मुनि

105.योग दर्शन – पतंजलि

106.न्याय दर्शन – गौतम

107.मीमांशा दर्शन – जैमिनी

108.उत्तर मीमांशा दर्शन -बादरायण

109. सुखवाद – चार्वाक

110.बौद्ध धर्म – महात्मा बुद्ध

111.जैन धर्म प्रचार – महावीर स्वामी

112. सिक्ख धर्म – गुरूनानक

113.ब्रह्म समाज- राजाराम मोहन राय

114.आर्य समाज – दयानंद सरस्वती

115.प्रार्थना समाज – आत्माराम पाण्डुरंग

116.वेद समाज – श्रीधर नायडू

117.थियोसोफीकल सोसाइटी – मेंडम ब्लेवत्सकी एवं हेनरी अल्काट

118.सत्यशोधक समाज – ज्योतिबा फुले

119.कूका विद्रोह – रामसिंह

120.अड़यार आश्रम -एनीबीसेंट

121.अरूविले आश्रम- अरविन्द घोष

122.रामकृष्ण मिशन – विवेकानंद

123.वेलुर मठ – स्वामी विवेकानंद

124.शिकागों में भाषण – विवेकानंद (1893)

125.न्यूयार्क में वेदांत सोसाइटी – विवेकानंद

126.गणेश एवं शिवाजी उत्सव – बाल गंगाधर तिलक

127.एशियाटिक सोसाइटी आफ बंगाल- विलियम जोन्स

128.साइंटिफिक सोसाइटी – अब्दुल लतीक

129.मोहम्मडन एंग्लो ओरियंटल कालेज-सर सैय्यद अहमद खांन

130.कांग्रेस की स्थापना – ए.ओ. ह्यूम

131.इंडियन एसोसिएशन – सुरेन्द्रनाथ बनर्जी
132.तत्व बोधिनी सभा -देवेन्द्र नाथ टैगोर

133.ब्रिटिश सार्वजनिक सभा – दादाभाई नौरोजी

134.रहनुमाई मजदायसान सभा -दादाभाई नौरोजी

135.संथाल विद्रोह – सिद्ध एवं कान्हू

136.मुंडा विद्रोह- बिरसा मुंडा

137.रेल्वे, डाकतार विभाग, पी.डब्ल्यू.डी. की स्थापना एवं हड़प नीति – लार्ड डलहौजी

138.खुला विश्वविद्यालय – लार्ड पैरी

139.महिला चिकित्सालय – लेडी डफरिन (1885)

140.पुलिस व्यवस्था -लार्ड कार्नवालिस (1793)

141. स्थायी बंदोबस्त -लार्ड कार्नवालिस

142. अंग्रेजी शिक्षा- लार्ड मैकाले

143. सहायक संधि -लार्ड वेलेजली

144. रैय्यतवाडी व्यवस्था – थामस मुनरो

145. सती प्रथा निषेध कानून कन्या वध, नरवलि, पिंडारी ठगों का अंत – लार्ड विलियम बैंटिंग

146. दिल्ली दरबार, वर्नाकुलर प्रेस एक्ट,आर्म्स एक्ट, द्वितीय अफगान युद्ध- लार्ड लिटन

147.इल्बर्ट बिल विवाद, लोकतांत्रिक विकेन्द्रीयकरण, प्रथम फैक्ट्री कानून, प्रथम नियमित जनगणना, बालश्रम उन्मूलन-लार्ड रिपन

148.अकर्मण्यता की नीति-जान लारेंस

149.सर्वेन्टस आफ इंडिया सोसाइटी – गोपालकृष्ण गोखले

150. मुस्लिम लीग – सलीमुल्ला एवं आगा खा

151. बनारस हिन्दू कालेज – एनीबीसेंट

152.बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय – मदनमोहन मालवीय (1916 )

153.साम्प्रदायिक निर्वाचन पद्धति- मार्ले एवं मिन्टो

154.गदर पार्टी की स्थापना – लाला हरदयाल

155.राष्ट्रगीत की रचना- बंकिम चंद्र चटर्जी

156.राष्ट्रगान – रवीन्द्रनाथ टैगोर

157.शान्ति निकेतन- रवीन्द्रनाथ टैगोर

158.हिन्दू महासभा – मदनमोहन मालवीय

159.साबरमती आश्रम – गांधी जी

160.होमरूल लीग – तिलकजी (अप्रैल 1916)

161.आल इंडिया होमरूल लीग- एनीबीसेंट

162.राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ -डा. हेडगेवार

163.बहिष्कृत हितकारिणी सभा -डा. अम्बेडकर

164.बारदोली सत्याग्रह -सरदार पटैल

165.खिलाफत आंदोलन- मुहम्मद एवं शौकत अली

166.स्वराज पार्टी चितरंजन दास एवं मोतीलाल नेहरू

167.लालकुर्ती दल – खान अब्दुल गफ्फार खान

168.हिन्दुस्तान लीग – भगतसिंह

169.हरिजन सेवक संघ – महात्मा गांधी

170.फारवर्ड ब्लाक – सुभाष चंद्र बोस

171.आजाद हिन्द फौज – कैप्टन मोहन सिंह

172.गांधी जी को महात्मा कहा- रविन्द्रनाथ टैगोर

173.गांधी जी को बापू कहां – नेहरू जी

174.गांधी जी को राष्ट्र पिता – सुभाष चंद्र बोस

175.मैथलीशरण गुप्त को राष्ट्रकवि -महात्मा गांधी

176.जिन्ना को कायदे आजम – महात्मा गांधी

177.सुभाष चंद्र बोस को नेताजी – हिटलर

178.नेहरू जी को चाचा- गांधी जी

179.पाकिस्तान नामक शब्द के जनक-रहमत अली चैधरी

180.आल इंडिया डिप्रेस्ड क्लास एसोसिएशन – डा0 अम्बेडकर

181.साम्प्रदायिक प्रचार – रेमजे मैकडोनाल्ड

182.नेहरू रिपोर्ट – मोतीलाल नेहरू

183.जलियांवाला बाग हत्याकांड- जनरल डायर

184.संविधान सभा का विचार- एम.एन. राय

185. जनसंघ की स्थापना – श्यामाप्रसाद मुखर्जी

186.सर्वोदय योजना – जयप्रकाश नारायण

187. संविधान सभा के वैधानिक सलाहकार – वी.एन.राव

188.नागरिक उड्डयन – जे.आर.डी. टाटा

189.जलविद्युत एवं इस्पात उद्योग के जनक -जे.आर.डी. टाटा

190.भारतीय झंडा – मेडम भीकाजी कामा (1907) (स्टटगार्ड जर्मनी)

191.जनजातियों को नेशनल पार्क की अवधारणा -बेरियर एल्विन

192. गुरूमुखी लिपि, लंगर प्रथा -गुरू अंगद

193.गुरू ग्रंथ साहेब का संकलन – अर्जुनदेव

194.अमृतसर के संस्थापक – गुरू रामदास

195.स्वर्ण मंदिर का निर्माण – अर्जुन देव

196.खालसा पंथ – गुरू गोविन्द सिंह

197.न्याय की जंजीर – जहांगीर

198. परिवार न्यायालय – पी.एन. भगवती

199.भारत में ब्रिटिश साम्राज्य के संस्थापक – लार्ड क्लाइब

200.आदिवासियों के मसीहा – ठक्कर बापा

201.गौ रक्षा संघ – महात्मा गांधी

202.एशियाई खेलो के जनक – गुरुदत्त सोधी

203.आगरे का लाल किला – अकबर

204.दिल्ली का लाल किला -शाहजहा

205.कांग्रेस का नामकरण – दादा भाई नौरोजी

206.अभिनव भारत – वीर सावरकर

207.भारतीय कम्युनिष्ट पार्टी – एम.एन. राय

208.बचपन बचाओ- कैलाश सत्यार्थी

209. परिवार नियोजन- एम. एस. सेंगर .

Posted in Do You Know, General Knowledge, Indian History, Religious, Spiritual

प्राचीन भारत का इतिहास

Q).01
समुद्रगुप्त के काल का इतिहास जानने का सबसे महत्वपूर्ण साधन हैं ?
a) इलाहाबाद स्तम्भ पर उत्कीर्ण लेख
b) मधुबनी उत्कीर्ण लेख
c) सॉंची गुफा अभिलेख
d) भरहुत भितिचित्र

A✔✔✔

Q).02
चन्द्रगुप्त द्वितीय के काल में विद्या , कला व साहित्य का महान केन्द्र कौनसा था ?

a) धारवाड़
b) वाराणसी
c) उज्जैन
d) विदिशा

C✔✔✔

Q).03
चन्द्रगुप्त द्वितीय को ” विक्रमादित्य ” क्यों कहा गया ?

a) उसकी उज्जैन शासकों पर विजय के फलस्वरूप
b) उसकी विभिन्न विजयों के फलस्वरूप
c) धार्मिक गुरुओं के आर्दशों के फलस्वरूप
d) उपरोक्त्त में से कोई नहीं

A✔✔✔

Q).04
चन्द्रगुप्त विक्रमादित्य के दरबार में नवरत्नों में सबसे अधिक प्रसिद्ध था?

a) कालिदास
b) आर्य्भट्ट
c) धनवन्तरि
d) वराहमिहिर

A✔✔✔

Q).05
कालिदास की किस कृति की गिनती विश्व की सौ प्रसिद्ध साहित्यिक कृतियों में होती हैं ?

a) ऋतुसंहार
b) मेघदूतम्
c) अभिज्ञानशाकुन्तलम्
d) कुमारसम्भवम्

C✔✔✔

Q).06
भारत के किस स्थल की खुदाई से लौह धातु के प्रचालन के प्राचीनतम प्रमाण मिले हैं ?

a) तक्षशिला
b) अतरंजीखेड़ा
c) कौशम्बी
d) हस्तीनपुर

B✔✔✔✔

Q).07
कपिल मुनि द्वारा प्रतिपादित दार्शनिक प्रणाली है –

a) पूर्व-मीमांसा
b) संख्या-दर्शन
c) न्याय दर्शन
d) उत्तर-मीमांसा

B✔✔✔

image

Q).08
अध्यात्म ज्ञान के विषय में नचिकेता और यम का संवाद किस उपनिषद में प्राप्त होता है ?

a) वृहदारण्यक उपनिषद में
b) छंदोग्य उपनिषद में
c) कथोपनिषद में
d) केन उपनिषद में

C✔✔✔

Q).09
उपनिषद कल के राजा अश्वपति शासक थे –

a) काशी के
b) केकय के
c) पांचाल के
d) विदेह के

B✔✔✔

Q).10
आरंभिक वैदिक साहित्य में सर्वाधिक वर्णित नदी है –

a) सिन्धु
b) सतुद्री
c) सरस्वती
d) गंगा

A✔✔✔

Q).11
उपनिषद पुस्तकें हैं –

a) धर्म पर
b) योग पर
c) विधि पर
d) दर्शन पर

D✔✔✔

Q).12
योग दर्शन के प्रतिपादक हैं –

a) पतंजलि
b) गौतम
c) जैमिनी
d) शंकराचार्य

A✔✔✔

Q).13
न्यायदर्शन को प्रचारित किया था –

a) चार्वाक ने
b) गौतम ने
c) कपिल ने
d) जैमिनी ने

B✔✔✔

Q).14
किस काल में अछूत की अवधारणा स्पष्ट रूप से उदित हुयी ?

a) ऋग्वैदिक काल में
b) उत्तर वैदिक काल में
c) उत्तर गुप्त काल में
d) धर्मशास्त्र के काल में

D✔✔✔✔

Q).15
800 ईसा पूर्व से 600 ईसा पूर्व का काल किस युग से जुड़ा है ?

a) ब्राम्ह्ण युग
b) सूत्र युग
c) रामायण युग
d) महाभारत युग

A✔✔✔

*****